समाचार

उद्योग मंत्री ने गोड़हर में किया कई निर्माण कार्यों का लोकार्पण तथा शिलान्यास


गोड़हर में मुख्य मार्ग से बाई पास तक बनेगी सीसी रोड – मंत्री श्री शुक्ल 

खनिज वाणिज्य तथा उद्योग मंत्री श्री राजेंद्र शुक्ल ने ग्राम पंचायत गोड़हर में आयोजित समारोह में कई निर्माण कार्यों का लोकार्पण तथा भूमिपूजन किया। इस अवसर पर उन्होंने मुख्य मार्ग से गोड़हर होते हुए बाई पास तक सीसी रोड निर्माण की घोषणा की। मंत्री श्री शुक्ल ने कहा कि गोड़हर में आज विकास पर्व मनाया जा रहा है, ग्राम पंचायत को एक साथ कई निर्माण कार्यों की सौगात मिली है। उन्होंने कहा कि आम जनता हमें सेवा करने के लिए ही चुनती है। विकास तथा आम जनता की सेवा करना हर चुने हुए प्रतिनिधि का दायित्व है। लगातार विकास के कार्य करके गोड़हर-रीवा और पूरे विंध्य क्षेत्र को नई पहचान दी जा रही है। हम ऐसा विकास कार्य करने का प्रयास कर रहे हैं जिनपर आने वाली पीढ़ी को भी गर्व होगा।
समारोह में मंत्री श्री शुक्ल ने कहा कि गोड़हर को आज तीन सीसी रोड़, दो नाली निर्माण, शांति धाम निर्माण सहित अन्य निर्माण कार्यों की सौगात मिली है। क्षेत्र के विकास के लिए निरंतर प्रयास किये जा रहे हैं, अभी हाल ही में मुख्यमंत्री जी ने बुधवार में विश्व के सबसे बड़े सोलर प्लांट का शिलान्यास किया है, इस क्षेत्र में भी रीवा पूरे देश में सबसे आगे होगा। सोलर प्लांट से युवाओं को रोजगार मिलेगा, साथ ही गुढ़ के कष्टहरनाथ मंदिर एवं भैरव बाबा मंदिर के विकास के लिए 15 करोड़ रूपये दिये जायेंगे। क्षेत्र के विकास लिए पैसे की कमी नही होगी। उन्होंने ने कहा कि विन्ध्य क्षेत्र में सड़क, सिंचाई तथा अन्य सुविधाओं का तेजी से विकास हुआ है। कई स्कूलों का उन्नयन किया गया है। विकास के कार्य लगातार किये जायेंगे।
उद्योग मंत्री ने कहा कि चंदुआ नाले में पुल बनाने के लिए शीघ्र ही सर्वेक्षण कराया जायेगा। यहां सड़क निर्माण के लिए आम जनता भी भूमि देकर सहयोग करें जिससे सड़क निर्माण संभव हो सके। उन्होंने धिरमा नाले में पुलिया निर्माण के लिए भूमि दान का सहयोग देने वाले अशोक द्विवेदी, अनूप द्विवेदी तथा मालिक के सहयोग की सराहना की। उन्होंने कहा कि गोड़हर से वाईपास होते करहिया तथा भोलगढ़ तक पक्की सड़क बनाई जायेगी। समारोह में जनपद अध्यक्ष रीवा के.पी. त्रिपाठी ने कहा कि रीवा के विकास के लिए मंत्री शुक्ल के नेतृत्व में शानदार कार्य किया जा रहा है। श्री सुरेन्द्र मणि त्रिपाठी ने कहा कि विकास के कार्यों से रीवा का कायाकल्प हो गया है। समारोह में सरपंच कमलेश्वर सिंह, उप सरपंच विकास शुक्ला, राजेश पाण्डेय, विवेक दुबे, संतोष पाण्डेय तथा जनप्रतिनिधिगण एवं आमजन उपस्थित रहे।

Have any Question or Comment?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

आलेख – अजय नारायण त्रिपाठी

Smiley face

अविस्मरणीय गौरवमयी पल व्हाइट टाइगर सफारी लोकार्पण

मारने वाले से बचाने वाला बडा होता है बचाने वाले से पालने वाला और जो लाए, बचाए, पाले उसकी बडाई का कहना ही क्या। सन 1976 में रीवा से सफेद बाघ का नाता टूट गया था अंतिम बाघ विराट के न रहने पर पूरा विन्ध्य केवल सफेद बाघ की कहानी गायक बन कर रह गया। राजेन्द्र शुक्ल की तब उम्र केवल 12 वर्ष की थी ऐसा बालमन जो कौतूहलो से भरा रहता है जो खेलना चाहता है, घूमना चाहता है, प्रकृति को आष्चर्य भरी निगाहों से निहारता है और फिर सवाल उठाता है बारिस क्यो होती है? इसका पानी कहां जाता है? बीज से पेड़ कैसे बनते है? जंगल क्यो है? जीव जन्तु क्यो जरूरी है? इन्द्रधनुष कैसे बनता है? पेड़ हरे क्यो हैं? इन सब सवालो के जबाव स्कूलो में मिलने की उम्र भी यह है। इस अवस्था में प्रकृति प्रेमी इस बच्चे ने यह जाना की हमारा क्षेत्र जो सफेद बाघ के गौरव से परिपूर्ण था अब वह विहीन हो चुका है। हम अब कभी सफेद बाघ इस क्षेत्र में नही देख पायेगें सफेद बाघ कैसा होता है अब यह केवल चित्रों के माध्यम से दूसरो को बता पायेंगे या फिर अन्य जगहांे पर जा कर देख पायेगें जहां पर यहीं के सफेद बाघ भेज दिए गए हैं। .. आगे पढ़ें


SuperWebTricks Loading...