समाचार

पीड़ित को राहत देने मे सह्रदयता रखना जरूरी है


गृहमंत्री श्री गौर अपराध पीड़ित प्रतिकर योजना कार्यशाला में

गृह एवं जेल मंत्री श्री बाबूलाल गौर ने कहा कि पीड़ित को राहत देने में सद्ददयता रखना चाहिये। श्री गौर मध्यप्रदेश अपराध पीड़ित प्रतिकर योजना पर आज प्रशासन अकादमी में एक-दिवसीय कार्यशाला का उदघाटन कर रहे थे।

कार्यशाला में 9 जिले के जिला एवं सत्र न्यायाधीश, जिला मजिस्ट्रेट एवं न्यायिक अधिकारी शामिल हुए।

श्री गौर ने कहा कि पीड़ित को मदद करने शुरू की गयी इस योजना का यह पहला वर्ष है। उन्होंने अपेक्षा की कि अधिकारी कार्यशाला में अपने अनुभव साझा कर क्रियान्वयन-स्तर की जटिलताओं को सरल करने में एक कदम और आगे बढ़ेंगे। पीड़ित को समय पर मदद मिलेगी। अपर मुख्य सचिव गृह श्री बी. पी. सिंह ने योजना की जानकारी दी। अकादमी की महानिदेशक श्रीमती कंचन जैन ने भी संबोधित किया।

पुलिस महानिदेशक श्री सुरेन्द्र सिंह और सदस्य राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण श्री दिनेश नायक मौजूद थे।

Have any Question or Comment?

One comment on “पीड़ित को राहत देने मे सह्रदयता रखना जरूरी है

Hi, this is a comment.
To delete a comment, just log in and view the post's comments. There you will have the option to edit or delete them.

Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

आलेख – अजय नारायण त्रिपाठी

Smiley face

अविस्मरणीय गौरवमयी पल व्हाइट टाइगर सफारी लोकार्पण

मारने वाले से बचाने वाला बडा होता है बचाने वाले से पालने वाला और जो लाए, बचाए, पाले उसकी बडाई का कहना ही क्या। सन 1976 में रीवा से सफेद बाघ का नाता टूट गया था अंतिम बाघ विराट के न रहने पर पूरा विन्ध्य केवल सफेद बाघ की कहानी गायक बन कर रह गया। राजेन्द्र शुक्ल की तब उम्र केवल 12 वर्ष की थी ऐसा बालमन जो कौतूहलो से भरा रहता है जो खेलना चाहता है, घूमना चाहता है, प्रकृति को आष्चर्य भरी निगाहों से निहारता है और फिर सवाल उठाता है बारिस क्यो होती है? इसका पानी कहां जाता है? बीज से पेड़ कैसे बनते है? जंगल क्यो है? जीव जन्तु क्यो जरूरी है? इन्द्रधनुष कैसे बनता है? पेड़ हरे क्यो हैं? इन सब सवालो के जबाव स्कूलो में मिलने की उम्र भी यह है। इस अवस्था में प्रकृति प्रेमी इस बच्चे ने यह जाना की हमारा क्षेत्र जो सफेद बाघ के गौरव से परिपूर्ण था अब वह विहीन हो चुका है। हम अब कभी सफेद बाघ इस क्षेत्र में नही देख पायेगें सफेद बाघ कैसा होता है अब यह केवल चित्रों के माध्यम से दूसरो को बता पायेंगे या फिर अन्य जगहांे पर जा कर देख पायेगें जहां पर यहीं के सफेद बाघ भेज दिए गए हैं। .. आगे पढ़ें


SuperWebTricks Loading...