You are here:  / आपन/बघेली

आपन/बघेली

  • कवि सूर्यभान कुशवाहा

    बघेली कविता करिया नागिन जइसन सड़कै,चामै दउरै पाँव रे  चला लौटिके चली चुपारे अपने अपने गाँव रे  मोटर गाड़ी केर चोगाडा करै कनपटी झाझर  चकाचौंध बिजुरी के लाइट,पोछे आंखी काजर  रात दिना ड़ीजे मुह फारे ,मुड़े ठैयां बाजय  गिललियान जिउ अइसन लागै, गिरी मूड माँ गाजै  बिल्लियान सब मनइ बागे मतलब के है ठाव रे  चला…

    Read more
  • प्रभारी मंत्री ने किया मंगलम रिसोर्ट का उद्घाटन

    प्रदेश के ऊर्जा एवं खनिज साधन जनसंपर्क मंत्री तथा सतना जिले के प्रभारी मंत्री राजेन्द्र शुक्ल ने आज अपने सतना प्रवास के दौरान उतैली सतना स्थित मंगलम रिसोर्ट एवं गार्डेन का फीता काटकर तथा दीप प्रज्जवलित कर विधिवत् उद्घाटन किया। इस मौके पर सांसद गणेश सिंह, राज्य पिछडा वर्ग आयोग के सदस्य लक्ष्मी यादव, समाजसेवी…

    Read more